इंटरव्यू में होना चाहते हैं कामयाब, तो जरूर जान लें ये खास टिप्स
Current Affairs in Hindi

इंटरव्यू में होना चाहते हैं कामयाब, तो जरूर जान लें ये खास टिप्स

इंटरव्यू में होना चाहते हैं कामयाब, तो जरूर जान लें ये खास टिप्स – दोस्तों, जीवन में कुछ महत्वपूर्ण काम करते हुए हमें कई बार निराशा हाथ लगती है लेकिन हम उसे भुलाकर लगातार आगे बढ़ते रहते हैं। हालांकि हर एक छात्र के जीवन में एक मौका ऐसा भी आता है, जहां उसे निराशा हाथ लगे, तो उसके परिणाम काफी गंभीर भी होते हैं। दरअसल हम बात कर रहे हैं, किसी भी नौकरी से पहले दिए जाने वाले इंटरव्यू की। क्योंकि जब इंटरव्यू के दौरान छोटी-छोटी भूल होने के कारण हमें बाहर होना पड़ता है, तो यह काफी निराश करने वाला पल होता है। क्योंकि जीवन के इसी पड़ाव पर हर एक छात्र का करियर बनता है।

अगर आपके साथ भी कभी ऐसा हुआ है कि आप इंटरव्यू के दौरान कामयाब न हो पाए हों और किसी न किसी गलती के कारण बाहर हो गए हों, तो आज हम आपको इस पोस्ट के जरिए बताने जा रहे हैं कि आप किस तरह एक इंटरव्यू में सफल हो सकते हैं। तो जानिए कौन से हैं वो महत्वपूर्ण टिप्स:-

पैनल में इंटरव्यू

चाहे वह सरकारी क्षेत्र की नौकरी हो या फिर निजी क्षेत्र की, दोनों में ही आज के समय में इंटरव्यू के दौरान एक पैनल आपके सामने बैठा होता है, जिसमें एक से अधिक लोग आपकी काबिलियत को परखते हैं और आपको खरा पाने के बाद ही वह आपको नौकरी के लिए योग्य समझते हैं। हालांकि पैनल को देखने के बाद ही कुछ अभ्यर्थी नर्वस हो जाते हैं और घबराहट में वह सवालों के जवाब नहीं दे पाते। ऐसे में आपको बता दें कि जब भी पैनल में कोई भी व्यक्ति आपसे कोई सवाल पूछे, तो आंखों में आंखें डालकर उस सवाल का जवाब दें।

 

Read More – साइंस की तैयारी कैसे करें? साइंस में अच्छे अंक कैसे लाएं?

आमने सामने

पैनल के अलावा कभी-कभी आपको किसी एक ही व्यक्ति से आमने सामने बैठकर साक्षात्कार देना होता है। ऐसे में जब आपसे कोई सवाल पूछा जाए, तो आप घबराएं नहीं बल्कि हां या न में उसका जवाब दें। हालांकि जब आपको किसी भी सवाल का जवाब मालूम हो, तो उसे विस्तार से बताएं और उसके बारे में खुलकर बात करें। ऐसा करने से सामने बैठा व्यक्ति भी आपकी काबिलियत से परिचित होता है और माहौल भी पॉजिटिव बना रहता है।

ग्रुप इंटरव्यू

इंटरव्यू का तीसरा तरीका होता है ग्रुप इंटरव्यू। इस तरह के इंटरव्यू से मतलब होता है कि पहले तो एक ग्रुप में ज्यादा लोगों को बैठाकर उनसे सवाल पूछना और फिर उसमें से चुनना। इसके बाद दोबारा उन्हीं चुने हुए लोगों में से एक एक कर सभी कैंडिडेट को इंटरव्यू के लिए बुलाना। इस तरह के इंटरव्यू में आपको यह ध्यान रखना होता है कि जब आप ग्रुप में बैठे हों, तो सभी सवालों या फिर टॉपिक को ध्यान से सुनें। जिससे आपको यदि बाद में बुलाया जाए, तो आपको उसके बारे में सही से जानकारी रहे।

टेलिफोनिक इंटरव्यू

आजकल के व्यस्त समय में इंटरव्यू का यह सबसे कॉमन चलन है। क्योंकि लोगों के पास समय की काफी कमी है और टेलिफोनिक इंटरव्यू का सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि आप किसी भी शहर में रहकर दूसरे शहर में आराम से इंटरव्यू ले भी सकते हैं और दे भी सकते हैं। इस तरह के इंटरव्यू से पहले आपको प्रेक्टिस करने का काफी समय मिलता है, जिसमें आप अपने घरवालों या फिर दोस्तों के साथ मिलकर अच्छे से प्रेक्टिस कर लें और कुछ महत्वपूर्ण टॉपिक्स पर खुलकर बात कर लें। इससे आप इंटरव्यू के दौरान सामने वाले शख्स से खुलकर बात कर सकेंगे और अपने टॉपिक्स पर खुलकर बात कर सकेंगे।

स्ट्रेस इंटरव्यू

इस तरह के इंटरव्यू के बारे में आपने शायद न ही सुना हो लेकिन आपको बता दें कि टार्गेट बेस्ड जॉब या फिर कुछ खास जॉब्स में आपको काफी स्ट्रेस भी झेलना होता है। ऐसे में इंटरव्यू के दौरान सामने बैठा व्यक्ति भी आपकी इसी काबिलियत को परखता है कि आप किसी भी सिचुएशन में कितना ज्यादा से ज्यादा स्ट्रेस झेल सकते हैं। ऐसे समय पर आप किस तरह का व्यवहार करते हैं और आपका धैर्य कितना ज्यादा है, यह बात काफी ज्यादा मायने रखती है। ऐसे में सबसे ज्यादा ध्यान देने वाली बात ये है कि जब आपसे कोई सवाल पूछा जाए, तो आपका पूरा फोकस सामने वाले शख्स पर ही होना चाहिए। जिससे आप सही से सवाल सुनें और ढंग से उसका उत्तर भी दें।

केस और टास्क इंटरव्यू

सबसे अंत में हम आपको जिस इंटरव्यू के बारे में बताने जा रहे हैं, उसमें आपको कोई टास्क या फिर केस दे दिया जाता है और साथ ही आपके पास टाइम बाउंडेशन भी होती है। जिसमें आपको उसका हल निकालना होता है। आपके इसी कौशल को देखकर ही यह तय किया जाता है कि आपको जॉब के लिए सेलेक्ट किया जाए या फिर नहीं।

नीतिश कुमार मिश्र
नीतिश कुमार मिश्र (Neetish Kumar Mishra) इस वेबसाइट के फाउंडर हैं। वे इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से स्नातक एवं महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ से परास्नातक (अर्थशास्त्र) कर चुके हैं। अब वे इस वेबसाइट के माध्यम छात्रों को बेहतर कंटेंट देकर उनको आगे बढ़ाने की ओर प्रयासरत हैं।